Wp/anp/असमिया भाषा

< Wp‎ | anp
Wp > anp > असमिया भाषा

असमिया या असमी एगो भासा के नाँव छेकै जे भारत के असम राज्य मँ बोललौ जाय छै। आधुनिक भारतीय आर्य भाषा सिनी क शृंखला मँ पूर्वी सीमा प अवस्थित असम क भाषा क असमी या असमीया कहलौ जाबै छै। असमीया भारत केरौ असम प्रांत क आधिकारिक भाषा तथा असम मँ बोललौ जाबै बला प्रमुख भाषा छेकै। एकरा बोलै बला क संख्या डेढ़ करोड़ सँ अधिक छै। इ भासा भारतीय संविधान के आठमां अनुसूची मँ शामिल छै।

भाषाई परिवार क दृष्टि सँ एकरौ संबंध आर्य भाषा परिवार सँ छै आरो बांग्ला भाषा, अंगिका भाषा, उड़िया भाषा आरो नेपाली भाषा सँ एकरौ निकट क संबंध छै। गियर्सन केरौ वर्गीकरण क दृष्टि सँ इ बाहरी उपशाखा केरौ पूर्वी समुदाय क भाषा छेकै, परंतु सुनीतिकुमार चटर्जी केरौ वर्गीकरण मँ प्राच्य समुदाय मँ इसका स्थान छै। उड़िया तथा बंगला क भांति असमीयो क उत्पत्ति प्राकृत तथा अपभ्रंशे सँ होलौ छेलै।

यद्यपि असमीया भाषा क उत्पत्ति 17मां शताब्दी सँ मानलौ जाबै छै किंतु साहित्यिक अभिरुचियों क प्रदर्शन 13मां शताब्दी मँ रुद्र कंदलि केरौ द्रोण पर्व (महाभारत) तथा माधव कंदलि केरौ रामायण सँ प्रारंभ होलौ छै। वैष्णवी आंदोलन न प्रांतीय साहित्य क बल देलकै। शंकर देव (1449-1568) न अपनौ लंबा जीवन-यात्रा मँ हैय आंदोलन क स्वरचित काव्य, नाट्य व गीतौ सिनी सँ जीवित राखलकै।

सीमा क दृष्टि सँ असमीया क्षेत्र केरौ पश्चिम मँ बंगला छै। अन्य दिशा मँ ढेरी विभिन्न परिवारौ क भाषा सिनी बोललौ जाबै छै। एकरा मँ सँ तिब्बती भाषा, बर्मी भाषा तथा खासी भाषा प्रमुख छै। इ सीमावर्ती भाषा सिनी क गहरा प्रभाव असमिया क मूल प्रकृति मँ देखलौ जाबै सकै छै। अपनौ प्रदेशे मँ खली असमीया नै बोललौ जाबै छै। इ प्रमुखतः मैदानौ क भाषा छेकै।


नामोत्पत्तिEdit

भासाई उत्पत्ति आरो इतिहासEdit

शैली सिनीEdit

मानकीकरणEdit

बोली सिनीEdit

लिपिEdit

शब्दावलीEdit

स्वरविज्ञानEdit

स्वरEdit

व्यंजनEdit

विदेशी ध्वनियाँEdit

व्याकरणEdit

जनसांख्यिकीEdit

एकरो देखौEdit

बाहरी कड़ीEdit

संदर्भEdit